वाराणसी। गोसाईपुर गांव में बहूभोज कार्यक्रम में आर्केस्ट्रा में ’22 में अखिलेश आएंगे’ गाने की धुन पर थिरक रही डांसर से छेड़खानी को लेकर जमकर मारपीट और तोड़फोड़ की गई। मारपीट में दोनों पक्ष से 8 लोग घायल हुए हैं। फिलहाल दोनों पक्ष में से किसी ने भी बड़ागांव थाने में तहरीर नहीं दी। नाइट कर्फ्यू के दौरान किससे इजाजत लेकर ऑर्केस्ट्रा का आयोजन कराया गया इसे लेकर बड़ागांव थाने की पुलिस ने चुप्पी साध ली है।

डांसर का हाथ पकड़कर खींचने पर मारपीट – बड़ागांव थाना के गोसाईपुर गांव निवासी मुन्ना यादव के भतीजे कन्हैया लाल की शादी बीती 4 जून को कोटवा, कमौली गांव में हुई थी। रविवार की देर रात बहूभोज के दौरान आर्केस्ट्रा का कार्यक्रम चल रहा था। आरोप है गांव के कुछ मनबढ़ युवक एक डांसर का हाथ पकड़कर उसे स्टेज से नीचे खींच लिए और इसी के साथ कहासुनी शुरू हो गई। देखते ही देखते मामला तूल पकड़ लिया और आयोजक व मनबढ़ युवक भिड़ गए।

घर का दरवाजा तोड़कर महिलाओं से छेड़छाड़ का आरोप – मुन्ना का आरोप है कि मनबढ़ ने युवक घर का दरवाजा तोड़कर महिलाओं से छेड़खानी की। सभी ने डांसरों और रिश्तेदारों को भी घेर लिया। पुलिस को सूचना दी गई तो डांसर किसी तरह से घर गई। मारपीट के दौरान कन्हैया की चेन भी छीन ली गई। दुल्हन का दरवाजा तोड़ने का भी प्रयास किया गया। वहीं दूसरे पक्ष के युवकों का कहना है कि वो ऑर्केस्ट्रा देख रहे थे और दूल्हे के घरवालों ने मारपीट शुरू कर दी।

ऑर्केस्टा का आयोजन हो रहा था, पुलिस को पता नहीं था – हरहुआ चौकी के इंचार्ज धनंजय सिंह से पूछा गया कि कोरोनाकाल में नाइट कर्फ्यू के दौरान ऑर्केस्ट्रा कैसे हो रहा था, किसने इजाजत दी थी। इस पर उन्होंने कहा कि यह हमें नहीं पता है। मारपीट की सूचना मिली थी तो दोनों पक्षों को कहा गया था कि वह बड़ागांव थाने जाकर तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करा लें। फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *