सैन फ्रांसिस्को। एक तरफ जहा सोशल मीडिया को लेकर सरकार और सोशल मीडिया कंपनियों में जंग छिड़ी हुई है तो वहीं दूसरी तरफ एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। बताना लाजमी है कि फेसबुक अश्लील कंटेंट पोस्ट करना भारी पड़ गया। जिसको लेकर लाखों का जुरमाना भरना पड़ा। ऐपल ने अमेरिका में एक महिला को लाखों रुपये का भुगतान किया है। इस मामले में एक जांच के बाद पता चला कि आईफोन रिपेयर करने वाले तकनीशियनों ने उसके फोन से उसके फेसबुक अकाउंट पर अश्लील कंटेंट अपलोड किया था।

द टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, जब पेगाट्रॉन की कैलिफोर्निया सुविधा में आईफोन की मरम्मत की जा रही थी, तो दो तकनीशियनों ने 2016 में ओरेगन कॉलेज के स्टूडेंट जेन डो के फोन से यौन रूप से स्पष्ट तस्वीरें और एक वीडियो अपने फेसबुक अकाउंट पर अपलोड किया था। दरअसल ऐपल ने द वर्ज को दिए एक बयान में इस घटना की पुष्टि भी की है।

ऐपल के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, “हम अपने ग्राहकों के डेटा की गोपनीयता और सुरक्षा को बहुत गंभीरता से लेते हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए कई प्रोटोकॉल हैं कि डेटा को पूरी मरम्मत प्रक्रिया में सुरक्षित रखा जाए। कंपनी के प्रवक्ता के हवाले से कहा गया, “जब हमें 2016 में अपने एक वेंडर पर अपनी नीतियों के इस गंभीर उल्लंघन के बारे में पता चला, तो हमने तुरंत कार्रवाई की और अपने वेंडर प्रोटोकॉल को मजबूत करना जारी रखा। रिपोर्ट के अनुसार, ऐपल ने अपना नाम अदालती फाइलिंग से हटा दिया था, लेकिन ऐपल और पेगाट्रॉन से जुड़े एक मामले में पहचान का खुलासा हुआ, जहां वकीलों ने कहा कि ये ग्राहक ‘स्पष्ट रूप से ऐपल’ का था।

रिपोर्ट के अनुसार, “अदालत के जमा दस्तावेजों में कहा गया है कि फाइलें इस तरह से अपलोड की गई थीं, जिससे पता चलता है कि जेन डो ने उन्हें खुद पोस्ट किया था। उसके वकील ने एप्पल से इमोशनल डिस्ट्रेस के लिए मुआवजे में 5 मिलियन डॉलर की मांग की थी। एक समझौते की सही राशि का खुलासा नहीं किया गया था, लेकिन यह ‘मल्टीमिलियन-डॉलर’ के सौदे की राशि थी। अदालत के दस्तावेजों के अनुसार, ऐपल ने सुविधा की ‘विस्तृत जांच’ की और घटना के लिए जिम्मेदार दो कर्मचारियों को निकाल दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *