Biscut-2
Azhar Malik – अज़हर मलिक

बाजपुर – महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास परियोजना के तहत 3 वर्ष से 6 वर्ष की आयु के बच्चों को मल्टीग्रेन बिस्किट वितरित करने के लिए आंगनबाड़ी वर्कर्स को दिए गए हैं। लेकिन बच्चों के लिए दिए जाने वाले बिस्किट बेहद खस्ताहाल में हैं। यही कारण है कि बच्चों को वितरित करने के लिए आए पैकेट में बिस्किट चूरन में तब्दील हो चुके हैं। जिसको लेकर आंगनबाड़ी वर्कर्स ने जिला कार्यक्रम अधिकारी को मामले से अवगत कराया।

      बता दें कि बीते 3 माह से आंगनवाड़ी वर्कर्स को महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास परियोजना विभाग द्वारा 3 से 6 वर्ष के बच्चों के लिए राशन उपलब्ध नहीं कराया जा रहा था। लेकिन 3 महीने बाद 3 से 6 वर्ष के बच्चों के लिए विभाग द्वारा मल्टीग्रेन बिस्किट वितरित करने के लिए आंगनबाड़ी वर्कर्स को दिए गए थे। लेकिन बिस्किट के पैकेट में बिस्किट चूरन में तब्दील हो चुके हैं। जिसको लेकर आंगनबाड़ी वर्कर्स ने जिला कार्यक्रम अधिकारी उदय प्रताप सिंह को मामले की शिकायत की।

       वही जब जिला कार्यक्रम अधिकारी उदय प्रताप सिंह से मामले की जानकारी ली गई, तो उन्होंने बताया कि मल्टीग्रेन बिस्किट सरस केंद्र पर महिलाओं द्वारा तैयार किया गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि वाहन में लोडिंग करते वक्त यदि कुछ पैकेट खराब हुए हैं तो उन्हें रिप्लेस करा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *