Solar Eclipse 2021: आज (10 जून) को भारत में इस साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण लगेगा। ग्रहण के दौरान चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के ठीक बीच में होगा। यह खगोलीय घटना तब होती है जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि सूर्य ग्रहण की घटना को सीधे देखने से आंखों को नुकसान हो सकता है। इतना ही नहीं इससे सेहत पर भी कई प्रभाव पड़ते हैं।

कहां दिखाई देगा सूर्य ग्रहण – इस सूर्य ग्रहण को भारत में केवल अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ हिस्सों में ही सूर्यास्त से कुछ समय पहले देखा जा सकेगा।

सूर्य ग्रहण 2021 का समय – अरुणाचल प्रदेश में दिबांग वन्यजीव अभयारण्य के पास से शाम लगभग 5:52 बजे इस खगोलीय घटना को देखा जा सकेगा। वहीं, लद्दाख के उत्तरी हिस्से में जहां, शाम लगभग 6.15 बजे सूर्यास्त होगा, शाम लगभग 6 बजे सूर्य ग्रहण देखा जा सकेगा। दुरई ने बताया कि उत्तरी अमेरिका, यूरोप और एशिया के बड़े क्षेत्र में सूर्य ग्रहण को देखा जा सकेगा।

सूर्य ग्रहण के नुकसान – माना जाता है कि बिना सुरक्षा ग्रहण देखने से आंखों पर बुरा असर पड़ता है। इससे आंखों की रोशनी खत्म होने और पूरी तरह से अंधेपन होने का खतरा होता है। वैज्ञानिक मानते हैं कि सूर्य ग्रहण पर मून फुल मून की तुलना में चार लाख गुना ज्यादा चमकदार होता है, जो सीधे रूप से आंखों को प्रभावित कर सकता है।

सूर्य को सीधे देखने से नुकसान 

  • आंखों की रोशनी कम हो सकती है
  • अंधेपन का खतरा
  • धुंधलापन होना
  • रेटिना को नुकसान होना
  • आंखों में जलन या दर्द होना

सूर्य ग्रहण को देखते समय इन बातों का रखें ध्यान

  • गलती से भी सूर्य को सीधे रूप से न देखें
  • सूर्य देखते समय हमेशा चश्मे का इस्तेमाल करें
  • सूर्य देखने के बाद अपनी आंखों की जांच जरूर कराएं
  • इस तरह के लक्षण होने पर तुरंत डॉक्टर से मिलें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *