Barbora Krejcikova Honors Late Coach: फ्रेंच ओपन जीत के बाद इमोशनल हुईं क्रेजीकोवा, दो सप्ताह पहले हुई थी कोच की मौत

चेक गणराज्य की गैर वरीय बारबोरा क्रेजीकोवा ने अनास्तासिया पेवलियुचेंकोवा को 6-1, 2-6, 6-4 से हराकर फ्रेंच ओपन महिला एकल खिताब जीत लिया। क्रेजीकोवा के कैरियर का एकल खिलाड़ी के तौर पर यह पांचवां टूर्नामेंट है। पिछले पांच साल में रोलां गैरो पर खिताब जीतने वाली वह तीसरी गैर वरीय खिलाड़ी हैं। पूरे समय अपनी दिवंगत कोच के बारे में सोचती रहीं, जिनकी दो सप्ताह पहले ही मौत हुई थी।

क्रेजीकोवा ने जीत दर्ज करते ही आंखें मूंद ली और अपनी पूर्व कोच 1998 विंबलडन चैम्पियन याना नोवोत्ना को याद किया जिनका 2017 में कैंसर के कारण निधन हो गया था। उन्होंने कहा, ‘उनके आखिरी शब्द थे कि खेल का मजा लो और ग्रैंड स्लैम जीतने की कोशिश करो। मुझे पता है कि वह कहीं से मुझे देख रही होंगी। इसीलिये दो हफ्ते के भीतर यह संभव हो सका।’

वह अब वर्ष 2000 के बाद दोहरा खिताब जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनने की कोशिश में होंगी। उस समय मैरी पियर्स ने महिला एकल और युगल दोनों खिताब जीते थे। क्रेजीकोवा और कैटेरिया सिनियाकोवा पहले ही दो ग्रैड स्लैम युगल खिताब जीत चुकी हैं और अब उन्हें फाइनल खेलना है। अनास्ताासिया के कैरियर का यह पहला ग्रैंड स्लैम फाइनल था। दूसरे सेट में उन्हें बायें पैर में चोट का उपचार कराना पड़ा।

 

क्रेजीकोवा के कैरियर का यह दूसरा डब्ल्यूटीए एकल खिताब है। उसने पिछले महीने फ्रांस के स्ट्रासबर्ग में खिताब अपने नाम किया था। फ्रेंच ओपन महिला वर्ग में लगातार छठी बार कोई नयी चैम्पियन बनी है। दूसरी वरीयता प्राप्त और चार बार की ग्रैंड स्लैम विजेता नाओमी ओसाका ने एक मैच के बाद मानसिक स्वास्थ्य का हवाला देकर नाम वापिस ले लिया था।

मीडिया से बातचीत की अनिवार्यता को लेकर उनकी अधिकारियों से ठन गई थी। नंबर एक खिलाड़ी ऐश बार्टी को बायें कूल्हे में चोट के कारण दूसरे दौर से बाहर होना पड़ा। सेरेना विलियम्स चौथे दौर में और गत चैम्पियन इगा स्वियातेक क्वॉर्टर फाइनल में हार गई थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *