ऐंडी लॉयड: एक ही दिन शुरू और खत्म हुआ इस खिलाड़ी का टेस्ट करियर, सिर्फ 30 मिनट ही बिताए मैदान पर

नई दिल्ली। आपने छोटे टेस्ट करियर के बारे में सुना होगा। किसी खिलाड़ी का करियर पांच-सात मैच का होता है। और कोई-कोई तो एक ही मैच खेल पाता है। हालांकि उस एक मैच में उन्हें शायद काफी कुछ करने को मिल जाता है। लेकिन इंग्लैंड के एक खिलाड़ी ने मैदान पर सिर्फ आधा घंटा बिताया। और इतना ही लंबा उनका टेस्ट करियर रहा।

14 जून का दिन था। साल था 1984। इस मैच में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज के खिलाफ ऐंडी लॉयड ने अपना टेस्ट डेब्यू किया था। एजबेस्टन में यह सीरीज का पहला टेस्ट मैच था। लॉयड 10 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तभी मैलकम मार्शल की एक तेज गेंद उनके हेलमेट पर आकर लगी। लॉयड हक्के-बक्के रह गए। उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। 10 रन नाबाद ही उनका हाईऐस्ट स्कोर रहा।

इंग्लैंड के इस सलामी बल्लेबाज ने क्रीज पर सिर्फ 30 मिनट बिताए। और इतना ही लंबा उनका टेस्ट करियर रहा। वह इस सीजन में कोई फर्स्ट क्लास मैच नहीं खेल और न ही उन्हें फिर कभी इंग्लैंड के लिए खेलने का मौका ही मिला। वह कई दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहे।

लॉयड को इंग्लैं के लिए तीन वनडे इंटरनैशनल खेलने का मौका मिला। इसमें उन्होंने 33.66 के औसत से 101 रन बनाए। उनका हाईएस्ट स्कोर 49 रन का रहा। हालांकि फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने 312 मैचों में 17211 रन बनाए। औसत रहा 34.28 का। वहीं 287 लिस्ट ए मैचों में 30.86 के औसत से 7562 रनों का योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *