नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने फेसबुक पर खूबसूरत लड़कियों की फर्जी प्रोफाइल बनाकर लोगों से सेक्सटॉर्शन वसूलने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। इस गैंग का सरगना भी मेवात से पुलिस के हत्थे चढ़ गया। ये गैंग अभी तक करीब 200 लोगों को अपना शिकार बना चुका है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को इस गैंग के शिकार बने एक पीड़ित ने शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद क्राइम ब्रांच ने मामले की तफ्तीश करते हुए हरियाणा के मेवात जा पहुंची और वहां से गैंग के सरगना बरकत अली को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी हरियाणा के पलवल का रहने वाला है। पुलिस का कहना है कि आरोपी ने अब तक 200 लोगों से सेक्सटॉर्शन वसूलने की बात कबूल की है।

आरोपी ने खुलासा किया कि उसने फेसबुक, व्हॉट्सएप, टेलीग्राम और टिंडर पर कई लोगों को अपना शिकार बनाया है। आरोपी बरकत ने बताया कि दिल्ली समेत देश भर में कई लोगों को अश्लील वीडियो बनाकर लाखों रुपये वसूल किए हैं। 15 से 20 हजार इसलिए मांगे जाते थे ताकि लोग आसानी से पैसे दे दें और पुलिस को शिकायत भी न करें। क्राइम ब्रांच के मुताबिक जांच में पता चला कि कई हाई प्रोफाइल लोग भी इस गैंग का शिकार बन चुके हैं।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि पहले मेवाती गैंग के लोग आर्मी जवान बनकर लोगों से कार, बाइक बेचने खरीदने के नाम पर ठगी करते थे। बरकत ने बताया कि उसने अपने गैंग के साथ मिलकर मैसूर में एडीएफसी बैंक के एटीएम को तोड़कर 12 लाख 86 हजार रुपये लूट लिए थे। इसके बाद गैंग के लोग पकड़े गए और उन्हें जेल जाना पड़ा। लेकिन जेल से बाहर आने के बाद इस गैंग ने नए तरीके से लोगों को लूटने का तरीका निकाल लिया। अब पुलिस गैंग के बाकी सदस्यों को तलाश रही है।

पुलिस के मुताबिक इन दिनों मेवात बेस्ड सेक्सटॉर्शन गैंग का सोशल मीडिया पर आतंक फैला हुआ है। कई लोग इस गैंग का शिकार बन चुके हैं। गैंग के सदस्य फेसबुक पर खूबसूरत लड़कियों के फर्जी प्रोफइल बनाते हैं। फिर लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर उनसे दोस्ती करते हैं। इसके बाद रंगीन बातें करके उन लोगों को अपने जाल में फंसाते हैं। जब टारगेट पूरी तरह फंस जाता है। तो उसके साथ नंबर लिया और दिया जाता है। फिर व्हॉट्सएप पर बातचीत का सिलसिला शुरू हो जाता है।

जैसे ही जाल में फंस चुका शिकार व्हॉट्सएप पर वीडियो कॉल करता है। इस गैंग के लोग सामने से लड़की की अश्लील वीडियो प्ले करके लोगों का अश्लील वीडियो बना लेते हैं। इसके बाद शुरू होता है ब्लैकमेलिंग का धंधा। ये गैंग शिकार का वीडियो वायरल करने की धमकी देता है। और बदले में 15 हजार से लेकर 20 हजार रुपये तक की डिमांड करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *