25 हजार का इनामी माफिया मुख्तार अंसारी का गुर्गा गिरफ्तार… पुलिस के सामने उगले कई सनसनीखेज राज

उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद माफ़िया मुख्तार अंसारी (mukhtar ansari) का फरार इनामिया गुर्गा पुलिस के हत्थे लगा है। फर्जी पते और दस्तावेज के आधार पर ऐंबुलेंस पंजीकरण मामले में फरार चल रहा 25,000 रुपये का इनामी आनंद यादव को बाराबंकी पुलिस ने बुधवार गिरफ्तार कर लिया है। मामले में विधायक प्रतिनिधि मोहम्मद मुजाहिद और मोहम्मद शाहिद अभी भी फरार है।

31 मार्च 2021 को कुख्यात माफ़िया मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल से ऐंबुलेंस पर पेशी पर ले जाया गया था। इस ऐंबुलेंस पंजीकरण नंबर बाराबंकी जिले के होने पर गाजीपुर की विधायक अलका राय ने ट्वीट कर सवाल उठाए थे। जिस पर बाराबंकी में ऐंबुलेंस का पंजीकरण चेक किया गया तो फर्जी दस्तावेज और पता पाया गया। मामले में 2 अप्रैल को नगर कोतवाली में धोखाधड़ी की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें मऊ जिले के श्याम संजीवनी अस्पताल की संचालिका डॉ. अल्का राय पति एसएन राय और सहयोगी राजनाथ यादव जेल में हैं। इसमें फरार चल रहे आंनद यादव की गिरफ्तारी की है। इस मामले में जेल में बंद मुख्तार अंसारी को भी पुलिस ने अभियुक्त बनाया है।

गिरफ्तार मुख़्तार के गुर्गे ने कबूला अपना जुर्म
आरोपी आंनद यादव ने ऐंबुलेंस मामले में पुलिस के सामने कई अहम खुलासे किए हैं। जिसमें मुख्तार अंसारी के बतौर विधायक प्रतिनिधि सुहैब उर्फ मुजाहिद लखनऊ के मोहम्मद जाफ़री उर्फ शाहिद है, जिन पर 25-25 हज़ार रुपये के इनाम घोषित हैं। इसके साथ ऐंबुलेंस चालक और पंजीकरण में सहयोग करने वाले अन्य कई नाम सामने आए हैं। पुलिस जिनकी तलाश में जुट गई है।

पहले से ही तैयारी थी क्या बताना है

एसपी यमुना प्रसाद ने बताया कि ऐंबुलेंस मामला जब सुर्खियों में आया तो आरोपी आनंद यादव, शाहिद और मुजाहिद के साथ डॉ. अल्का राय के घर गया था। वहां पर इन लोगों ने एक ऑडियो क्लिप डॉक्टर को दी थी। इसमें बताया था कि यदि पुलिस और मीडिया इस मामले के बारे में पूछते हैं तो उनको क्या बताना है। यह भी आरोपियों ने डॉ. अल्का राय को बताया था कि पुलिस में मीडिया को क्या बताया जाए। पुलिस को बताया जाए कि मुख्तार अंसारी की पत्नी बीमार थी, जिसके चलते उन्हें ऐंबुलेंस की जरूरत थी। इसी के लिए यह ऐंबुलेंस लेकर वह पंजाब जेल गए थे।

असलहे और हथियारों की हुई सप्लाई

एसपी ने यह भी बताया कि इस ऐंबुलेंस से असलहा भी ढोये गए हैं। इसके अलावा ऐंबुलेंस को जिन लोगों ने चलाया है और इस मामले में कई अन्य लोगों के नाम सामने आ रहे हैं। जितने भी लोग इस मामले में संदिग्ध मिल रहे हैं और उनके नाम उजागर हो रहे हैं। सभी के खिलाफ केस दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है।

25 हजार का इनामी माफिया मुख्तार अंसारी का गुर्गा गिरफ्तार... पुलिस के सामने उगले कई सनसनीखेज राज

25 हजार का इनामी माफिया मुख्तार अंसारी का गुर्गा गिरफ्तार… पुलिस के सामने उगले कई सनसनीखेज राज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *