INDIA NAZAR – इंडिया नज़र ब्यूरो

देहरादून/पंतनगर – लोक निर्माण विभाग से नोटिस मिलने के बाद नगलावासियों के शिष्ट मण्डल ने विधायक राजेश शुक्ला के साथ आज सचिवालय में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से मुलाकात की।

       विधायक राजेश शुक्ला ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी को बताया कि पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय के निकट हल्द्वानी रोड पर नगला में हजारों निवासी निवास करते हैं, इनकी दुकान, होटल, शोरूम व आवास तथा मंदिर आदि बड़ी संख्या में लोक निर्माण विभाग की जमीन के बाद रेलवे की जमीन से पहले रेलवे और पीडब्ल्यूडी के बीच सरकारी भूमि जो खंती में दर्ज है उसमें पुरानी (सन 1960 से) बसावट है। किसी व्यक्ति द्वारा P.I.L. डालने पर इन्हें हटाने का फैसला हो रहा है जिससे यह सभी परिवार बेघर हो जाएंगे।

        विधायक राजेश शुक्ला ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को बताया कि पंतनगर विश्वविद्यालय ने बीते 10 जून को 62 परिवारों को नोटिस जारी करने के बाद अब लोक निर्माण विभाग द्वारा 492 परिवारों को अतिक्रमण के नाम पर नोटिस जारी किया गया है। नगला क्षेत्र में निवासरत हजारों परिवार को कोरोना काल मे पहले से ही आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, साथ ही अब अतिक्रमण का नोटिस मिलने के बाद बेघर होने का डर सता रहा है।

        विधायक शुक्ला ने मुख्यमंत्री से हाईकोर्ट के आदेश को ध्यान में रखते हुए नगला के हजारों परिवारो को न उजाड़ने के सम्बंध में कानूनन आवश्यक कार्यवाही का आग्रह किया। मुख्यमंत्री से मुलाकात करने वाले शिष्टमंडल में विधायक राजेश शुक्ला के साथ महेंद्र कुमार, संजय सिंह, मुकेश वर्मा, सुनील रोहिल्ला, केसर सिंह, अनिल यादव, प्रकाश बिष्ट, हरीश पांडेय, सुभाष, अनिल शर्मा, सूर्या जलाल, गजेंद्र गुप्ता थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *