कुत्ते के हमले से बचने के लिए एक-दूसरे पर चढ़ गईं भेड़ें, दम घुटने से सौ की मौत

यूपी के हरदोई जिले के हरपालपुर थाना क्षेत्र के नेवादा चौगवां गांव में शुक्रवार सुबह करीब सौ भेड़ें मरी पाई गईं। पशु चिकित्साधिकारी ने एक भेंड़ का पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण दम घुटना बताया गया है। मृत भेड़ों को जेसीबी की मदद से गड्ढा खोद दफन कर दिया गया।

मिली जानकारी के अनुसार हरपालपुर थाना क्षेत्र के प्रेमनगर मजरा नेवादा चौंगवा गांव निवासी रुप्पा के पुत्र गंगाचरण, श्रीपाल, लेखपाल, वीरपाल के पास डेढ़ सौ भेड़ें हैं। यह लोग इन भेड़ों को खेतों में चराने के बाद अपने घर के पास बने गोंडा में रात को इकट्ठा कर देते थे।

सुबह मरी मिलीं सौ भेड़ें
गुरुवार को भी इन लोगों ने सभी भेड़ों को चराने के बाद गोंडा में लाकर कर दिया, लेकिन शुक्रवार सुबह जब वहां जाकर देखा तो कुत्ते एक दो भेड़ों को नोच रहे थे। भेड़ पालक गंगाचरण ने जब पास जाकर देखा तो वहां करीब सौ भेड़ें मरी हुई थीं। अपनी लाखों रुपये की कीमत की भेड़ों को मृत अवस्था मे देखकर उसके होश उड़ गए। कुछ भेड़ें बेहोश थीं। सौ भेड़ों का एकाएक मर जाना, उसे किसी साजिश का हिस्सा लगा तो तुरन्त पुलिस को सूचित किया।

दहशत में एक दूसरे पर चढ़ने से दम गया घुट
भेड़ों की मरने की सूचना पर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और क्षेत्रीय पशु चिकित्सा अधिकारी को जानकारी दी। जानकारी मिलते ही पशु चिकित्साधिकारी डॉक्टर संतोष वर्मा अपनी टीम के साथ गांव पहुंचकर मृत भेड़ों में से एक का पोस्टमार्टम किया। पशु चिकित्साधिकारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार भेड़ों की दहशत और दम घुटने से मौत हुई है।

उन्होंने बताया कि रात के समय भेंडो के झुंड में कुत्ते पहुंच गए और कुत्तों के हमले से भेंड़े एक-दूसरे के ऊपर दहशत के चलते इकट्ठी हो गईं, जिससे उनकी दम घुट गई और दहशत की वजह से उन्होंने दम तोड़ दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *