India 1st Innings Report: काइल जैमीसन के ‘पंच’ से दहली टीम इंडिया, पहली पारी 217 रनों पर समाप्त

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के खिताबी मुकाबले में भारत की पहली पारी 217 रनों पर समाप्त हो गई। मैच के तीसरे दिन के पहले और दूसरे सत्र में काइल जैमीसन पूरी तरह छाए रहे। उन्होंने पहले सत्र की शुरुआत में ही कप्तान विराट कोहली और ऋषभ पंत को चलता किया, जबकि पारी खत्म होने तक 5 विकेट अपनी झोली में डाले। भारत के लिए अजिंक्य रहाणे ने सबसे अधिक 49 और विराट कोहली ने 44 रन की पारी खेली।

इससे पहले भारत ने दूसरे दिन के 3 विकेट पर 146 रनों के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया। फाइनल के दूसरे दिन शनिवार को यहां खराब रोशनी के कारण खेल जल्दी समाप्त किए जाने तक तीन विकेट पर 146 रन बनाए थे। अंपायरों ने जब दिन का खेल समाप्त करने की घोषणा की तब कप्तान विराट कोहली 44 और उप कप्तान अजिंक्य रहाणे 29 रन पर खेल रहे थे।

कोहली का मास्टर क्लास
परिस्थितियां बल्लेबाजी के लिए मुफीद नहीं थीं। पिच पर नमी थी। हवा गेंद को घुमा रही थी। न्यूजीलैंड की टीम के तेज गेंदबाज उसका पूरा फायदा उठा रहे थे। बल्लेबाजों के लिए रन बनाने चुनौतीपूर्ण था और विकेट पर टिकना उससे भी ज्यादा। लेकिन वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के दूसरे दिन कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर दिखाया कि आखिर क्यों उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में गिना जाता है।

कोहली ने खुद को परिस्थिति के हिसाब से ढाला। 124 गेंद खेलकर 44 रन बनाना यह कोहली का स्वाभाविक खेल नहीं लेकिन टेस्ट क्रिकेट की परिस्थितियों को समझते हुए कोहली इसी अंदाज में खेल रहे हैं। उनका साथ दे रहे हैं उपकप्तान अजिंक्य रहाणे। जिन्होंने 79 गेंद का सामना किया है और 29 रन बनाए हैं। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 58 रन जुड़ चुके हैं। मुश्किल परिस्थितियों में यह मजबूत साझेदारी है।

रोहित-शुभमन ने दी थी अच्छी शुरुआत
इससे पहले रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने अनुशासित बल्लेबाजी करके न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को मिल रही स्विंग का शुरू में डटकर सामना किया लेकिन वे लंबी पारियां खेलने में नाकाम रहे। ये दोनों बल्लेबाज लंच से ठीक पहले आउट हुए। इंग्लैंड में पहली पारी टेस्ट मैचों में पारी का आगाज करने वाले रोहित (68 गेंदों पर 34 रन) और गिल (64 गेंदों पर 28 रन) स्पष्ट रणनीति के साथ क्रीज पर उतरे थे और उन्होंने ट्रेंट बोल्ट और टिम साउदी के सामने इसे अच्छी तरह से लागू भी किया।

रोहित और गिल की खास रणनीति
रोहित ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज बोल्ट की इनस्विंगर से निबटने के लिए खुले स्टान्स के साथ खेल रहे थे जबकि गिल ने साउदी की आउटस्विंगर से पार पाने के लिए अपनी क्रीज से थोड़ा बाहर खड़े थे। गिल ने बोल्ट की गेंद पुल करके भारत की तरफ से पहला चौका लगाया। जिसके बाद रोहित ने साउदी पर दो चौके जमाए। जैमीसन की शॉर्ट पिच गेंद गिल के हेलमेट की ग्रिल पर भी लगी।

यूं गिरे विकेट
इसी तेज गेंदबाज ने आखिर में रोहित को आउट करके न्यूजीलैंड को पहली सफलता दिलायी। साउदी ने तीसरी स्लिप में उनका शानदार कैच लिया। रोहित शॉट खेलने को लेकर असमंजस की स्थिति में आ गए थे जिसका फायदा गेंदबाज और कीवी टीम को मिला। नील वैगनर ने अपने पहले ओवर में कोण लेती गेंद पर गिल को विकेटकीपर बी जे वाटलिंग के हाथों कैच कराया। तीसरा विकेट चेतेश्वर पुजारा के रूप में गिरा। वह 8 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर LBW आउट हुए।

कीवी टीम के पक्ष में रहा था टॉस
इससे पहले पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ने के बाद हैंपशर बाउल में सर्द मौसम और बादलों से भरे आसमान को देखते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला करने में कोई हिचकिचाहट नहीं दिखायी। भारत ने दो दिन पहले जो टीम चुनी थी उसमें कोई बदलाव नहीं किया जबकि न्यूजीलैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा। उसके पास पांचवां तेज गेंदबाज ऑलराउंडर कोलिन डि ग्रैंडहोम हैं। मतलब न्यूजीलैंड ने किसी स्पिनर को अंतिम एकादश में नहीं रखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *