अलीगढ़। वर्दी और मोबाइल की परवाह नहीं करते हुए गंगनहर में डूब रहे युवक को बचाने के लिए कूद गया। सब इंस्पेक्टर पूरी जी-जान लगाकर डूब रहे युवक के पास तक पहुंचे और उसको सकुशल बाहर निकाल लिया। युवक को बचाने के प्रयास में उनका 15 हजार रुपये का मोबाइल भी गंगा में बह गया। युवक को बचाने पर सब इंस्पेक्टर ने कहा कि मोबाइल तो फिर आ जाएगा, लेकिन अगर ये युवक डूब जाता तो फिर कभी वापस नहीं आता।

सब इंस्पेक्टर आशीष कुमार थाना दादों में तैनात हैं। उनकी डयूटी आज गंगनहर साँकरा पर दोनों नहरों के बीच पुल पर लगी थी। नहर की पटरी पर पन्नालाल पुत्र तेज सिह यादव निवासी ग्राम हारुनपुर खुर्द थाना दादों खड़ा था। अचानक से पन्नालाल का पैर फिसला और वह गंगनहर में गिर गया।

यह देखकर लोगों ने शोर मचा दिया। यह देखकर सब इंस्पेक्टर आशीष कुमार उसे बचाने के लिये बिना देरी किये गंगनहर में कूद गये। डूबने वाले को गंगनहर से बाहर निकाल लिया। युवक को सकुशल घर पहुँचाया गया। अलीगढ़ पुलिस के जांबाज सब इंस्पेक्टर आशीष-बचपन में तैराकी सीखी, उसके बाद कही सालों तक तैराकी नहीं की, लेकिन डूबते हुए की जान बचाने के लिए खाकी किस कदर समर्पित है यह दुनिया को दिखा दिया। सब इंस्पेक्टर आशीष की बहादुरी को देखते हुए एसएसपी ने 25000 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि स्वीकृत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *