Rajesh-1
INDIA NAZAR – इंडिया नज़र ब्यूरो

किच्छा – राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर क्षेत्रिय विधायक राजेश शुक्ला ने पत्नी शशि शुक्ला के साथ आज सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सपरिवार सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए अपने आवास पर ही योग दिवस मनाया।

       विधायक राजेश शुक्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के प्रयासों से 21 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के प्रस्ताव को अनुमोदन किया था, आज पूरा विश्व एकमत होकर योग के इम्युनिटी बढ़ाने एवं स्वस्थ रहने का सबसे कारगर उपाय योग को माना है। इस वर्ष कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए लोगों ने अपने अपने आवास पर योग दिवस मनाया है। प्रतिदिन आसन एवं प्राणायाम करके अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं लेकिन आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस होने के कारण परिवार में उत्साह का वातावरण है और सबने एक साथ योग दिवस मनाया। परिवार के साथ आसन में त्रिकोणासन, उत्कटासन, अर्ध चक्रासन, बाजासन, पर्वतासन, मकरासन, सर्गासन के साथ ही प्राणायाम में ब्राह्मणी, कपालभाति, अनुलोम, विलोम, भ्रमरी का अभ्यास ही शरीर को स्वस्थ रखने का उपाय है।

Rajesh-2

        विधायक शुक्ला ने कहा कि योग का अर्थ ही है समत्वम योग उच्यते अर्थात अनुकूलता-प्रतिकूलता, सफलता -विफलता, सुख संकट हर परिस्थिति में सामान रखने अडिग रहने का नाम ही योग है। दैनिक जीवन में योग करने से तन मन स्वस्थ रहता है एवं शरीर के नकारात्मक उर्जा को योग समाप्त कर देता है।

Rajesh-3

       योग तन व मन के बीच सामंजस्‍य स्थापित करने का ऐसा शाश्वत साधन है जिसके नियमित अभ्यास से मनुष्य में एक नई आत्म चेतना जागृत होती है। भारत की प्राचीनतम परंपरा की पहचान योग आज मोदी जी के प्रयासों से विश्व बंधुत्व का प्रतीक बन गया है। हजारों वर्षों से लाखों-करोड़ों लोगों को स्वस्थ एवं खुशहाल जीवन का वरदान और शरीर एवं मन के संयोजन का साधन, योग के रूप में हमारे ऋषियों ने विश्व को दिया है। मानवता को यह भारत की अनुपम देन है। योग, कोविड-19 के संदर्भ में भी सहायक हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *