रांची। प्रेमिका संग मिलन के दौरान तीन बच्चों के बाप की जान उस समय चली गई जब वो अवैध संबंधों के चलते अपनी प्रेमिका को एक जर्जर पड़े मकान में ले गया, लेकिन दोनों के प्रेम मिलन के दौरान ही अचानक घर की दीवार गिर गई, जिसकी चपेट में प्रेमी आ गया। वहीँ प्रेमिका की हालत भी गंभीर है और उसके दोनों पैर टूट गए हैं।

यह चौंकाने वाला मामला झारखंड के गढ़वा में सामने आया, जब अपनी प्रेमिका संग समय बीता रहे शख्स की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मलबे में दबने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं प्रेमिका की भी हालत गंभीर बताई जा रही है। मृतक युवक के तीन बच्चे भी हैं। पूरा मामला मेराल थाना इलाके के करकोमा गांव का है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और प्रेमी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। दूसरी ओर, घायल महिला को इलाज के लिए गढ़वा सदर अस्पताल में भेजा गया।

बताया जा रहा कि महिला मेराल थाना इलाके के सिरहे की गांव की रहने वाली है। उसके पति ने उसे छोड़ दिया है। करकोमा गांव में रहने वाले दशरथ भुइयां के बेटे की शादी थी। जिसमें वो शामिल होने के लिए यहां आई थीं। रिश्तेदार के बेटे की बारात जाने के बाद महिला ने रात में मौका पाकर सिरहे गांव में रहने वाले अपने प्रेमी सुरेंद्र मेहता उर्फ बाबूराम को बुला लिया। उसके आते ही दोनों यहां मौजूद बिजली सब-स्टेशन के बगल स्थित एक जर्जर मकान में चले गए। जिस समय दोनों उस घर में पहुंचे अचानक ही जोरों से बारिश शुरू हो गई। अभी उनका प्रेम मिलन चल ही रहा था कि बारिश की वजह मकान की कमजोर दीवार ढह गई।

दीवार गिरने से 45 वर्षीय सुरेंद्र उर्फ बाबूराम इसमें दब गया। युवती के भी दोनों पैर टूट गए और वह गंभीर रूप से घायल हो गई। उसकी इतनी हिम्मत नहीं थी घर से बाहर निकल सके। तुरंत ही उसने शोर मचाना शुरू कर दिया। बताया जा रहा कि मृतक सुरेंद्र की पत्नी और तीन बच्चे हैं। उसकी मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *