गोवा। आइए कोरोना काल में मिलते हैं एक चमत्कारी बाबा से जिन्होंने अपनी कलाकारी का चित्रकारी का परचम जम्मू कश्मीर गोवा और अब छत्तीसगढ़ में लहरा रहे हैं। छत्तीसगढ़ के 10 जिलों में उनके हाथ की बनाई मूर्तियां स्थापित की जा चुकी है। पर अब उनके द्वारा बताया जा रहा है कि उनके हाथों में अब चमत्कारी शक्तियां उत्पन्न हो गई है। आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिला से 13 किलोमीटर आगे एक छोटा सा गांव है।
जिस गांव का नाम बूढ़े ना है। इस गांव को बाहर कोई भी नहीं जानता था पर जब से हरनारायण चित्रकार बुढेना आया है। तब से सारे छत्तीसगढ़ में बुढेना गांव को जानने लगे हैं क्योंकि यहां हरनारायण चित्रकार का घर है जो मूर्तियां बनाते हैं। और दूर-दूर जिलों से लोग मूर्तियां बनवा कर ले जाते हैं। इनके द्वारा पूछ जिले में बहुत सी मूर्तियां बनाई गई है। जो आज भी वहां स्थापित है पर अब उनका कहना है। कि उनके शरीर में एक अजब सी रूहानी शक्तियां है जो उन्हें पहले से मालूम थी पर वह लोगों को बताने से डरते थे उनका कहना है की अपने हाथों से जब वह किसी बीमार व्यक्ति के बीमारी के स्थानों पर हाथ रखते हैं। तो उनकी सारी बीमारी ठीक हो जाया करती है।
जिसका उन्होंने बहुत सारे बताकर प्रमाण दिए अब उनका जनता से कहना है। कि यदि उन को परखना है तो जो भी बीमारी में है वह उनके पास जाएं ताकि वह उस बीमारी के स्थान पर हाथ रखे और लोग ठीक हो जाएं लेकिन आज के इस दौर में क्या उसके द्वारा कहीं जा रही बातें सत्य है। या फिर एक इत्तेफाक के उनके द्वारा कही गई बात सच हो गई जिसे वह एक रूहानी ताकत से अपने आप को भरपूर समझ कर हाईलाइट होने की कोशिश तो नहीं कर रहा क्योंकि यदि उसके पास यह रूहानी ताकत रहती तो क्या पहले से ही वह सारे बीमारी वालों को ठीक ना करता होता रहता पर अब जब 60 की उम्र पार कर चुका तो अपनी शक्ति के बारे में बताना कहां तक सही लगता है यह तो समझने वाले जाने पर उनका दावा है कि उनके द्वारा कही गई सारी बातें सत्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *