गोपालगंज। बिहार के गोपालगंज में एक प्रेमी जोड़े ने विवाह के बाद सुहागरात को ही जहर खाकर जान देने की कोशिश की। हालांकि समय रहते परिजनों ने उन्हें बेहोशी हालत में देख लिया और इलाज के लिए तुरंत अस्पताल पहुंचाया। जहां उनकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। प्रेमी जोड़े ने ख़ुदकुशी की कोशिश क्यों की अभी इसका पता नहीं चल पाया है।

हादसे को लेकर परिजनों ने पुलिस को बताया कि जमशेदपुर के सोनाटे थाना क्षेत्र की रहने वाली 28 वर्षीय शांति देवी और गोपालगंज के मीरगंज शहर के निवासी चंद्रिका सिंह के 30 वर्षीय पुत्र मुकेश कुमार सिंह ने रविवार रात को परिजनों की उपस्थिति में पास के ही थावे मंदिर में शादी रचाई थी। शादी के बाद कल रात को घर पर बहुभोज का कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

इस दौरान सगे-संबंधियों और रिश्तेदारों को खिलाने के बाद पति-पत्नी कमरे में सोने चले गए लेकिन रात में ही पता नहीं ऐसा क्या हुआ कि दोनों ने जहर खा लिया। परिजनों ने बताया कि दोनों ने चिकन में जहर मिला खा लिया। परिजनों ने जब दोनों को कमरे में बेहोशी हालत में देखा तो आनन-फानन में सदर अस्पताल ले आये। रात में इमरजेंसी वार्ड के चिकित्सक ने दोनों का इलाज किया।

अस्पताल वालों ने हादसे की खबर पुलिस को दी। जब तक पुलिस अस्पताल पहुंची तब तक परिजन दोनों को लेकर अस्पताल से चले गए थे। डॉक्टरों ने पुलिस को बताया कि नव दम्पति के जहर खाने के बाद परिजनों ने उन्हें उल्टी कराने के लिए सर्फ का पानी पिलाया था। इसके बाद भी जब हालत में सुधार नहीं हुआ तब वह उन्हें अस्पताल लेकर आये। इस मामले में सदर अस्पताल के पुलिस पदाधिकारी बीएन राय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दोनों प्रेमी जोड़े बेहोशी हालत में थे इसलिए पूछताछ नहीं की जा सकी। जैसे ही उन्हें होश आता है उनसे पूछताछ की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *