WTC Final: वही गेंद, विकेट वही और वैसा ही धांसू जश्न… मोहम्मद शमी की चैंपियन बॉल ने दिलाई 2016 की याद

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जा रहा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल रोमांचक स्थिति में पहुंच गया है। भारतीय टीम के पहली पारी के स्कोर 217 के जवाब में कीवी टीम ने 249 रन बनाकर 32 रन की बढ़त हासिल की। भारत की पारी में मोहम्मद शमी का बीजे वॉटलिंग को बोल्ड करने की खूब तारीफ हो रही है लेकिन साथ ही पांच साल पुराना एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें शमी ने वॉटलिंग को इसी अंदाज में बोल्ड किया था।

भारत की ओर से ईशांत शर्मा ने तीन, रविचंद्रन अश्विन ने दो और रविंद्र जडेजा ने एक विकेट हासिल किया। लेकिन भारत की ओर से सबसे कामयाब गेंदबाज रहे मोहम्मद शमी। शमी ने चार विकेट लेकर न्यूजीलैंड को बड़ा स्कोर बनाने से रोका। इतना ही नहीं उन्होंने अहम मौकों पर विकेट लिए। उनमें से विकेट बीजे वॉलटिंग का था। शमी ने उन्हें एक शानदार गेंद पर बोल्ड किया जिसका कीवी विकेटकीपर बल्लेबाज के पास कोई जवाब नहीं था।

ईशांत शर्मा ने हेनरी निकोल्स को अपने पिछले ओवर में चलता किया था। रोहित शर्मा ने स्लिप में उनका शानदार कैच पकड़ा था। अब शमी की बारी थी कीवी टीम पर पंच करने की।

कहते हैं टेस्ट मैच में विकेट कमाया जाता है। यहां वह गेंद विकेट नहीं लेती जिस पर बल्लेबाज आउट होता है बल्कि उससे पिछली गेंद पर बल्लेबाज आउट होता है। यानी बल्लेबाज के दिमाग में पिछली गेंद होती है और वह उस गेंद का सामना पूरी तत्परता से नहीं कर पाता। वैसा ही वॉटलिंग के साथ हुआ। शमी ने पहले शॉर्ट बॉल फेंककर बल्लेबाज को सेट किया। और उसके बाद बाहर स्विंग होती गेंद फेंकी।

यह गेंद फुल लेंथ थी। टप्पा खाने के बाद यह थोड़ी सी बाहर निकली। बल्लेबाज के कदम गेंद की पिच तक नहीं पहुंच पाए। गेंद सबको छकाती हुई मिडल और ऑफ स्टंप के ऊपर टकराई। इस विकेट ने 2016 में भारत और न्यूजीलैंड के मैच की याद ताजा कर दी। इस मैच में भी शमी ने वॉटलिंग को इसी तरह की एक गेंद पर बोल्ड किया और कुछ ऐसा ही सेलिब्रेशन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *