Noida Corona Death: कोरोनाकाल में नोएडा में 466 मौतें? फिर मई में 4 हजार डेथ सर्टिफिकेट कैसे हुए जारी

गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन के रेकॉर्ड के अनुसार, नोएडा-ग्रेटर नोएडा में कोरोना से मरने वालों की संख्या पिछले साल से लेकर अब तक मात्र 466 है। वहीं, जिले में विभिन्न जगहों से जारी होने वाले डेथ सर्टिफिकेट के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अकेले मई में करीब 4 हजार से ज्यादा डेथ सर्टिफिकेट जारी हुए हैं। इनमें 2063 डेथ सर्टिफिकेट नोएडा सेक्टर-39 स्थित स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए हैं। बाकी ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी से लेकर नगर पालिका परिषद दादरी, 5 नगर पंचायतें, जिला अस्पताल, जिम्स और 88 ग्राम सभाओं से मृत्यु प्रमाण पत्र बनाए गए हैं।

जनवरी से लेकर मई तक इस साल जिले में 9561 लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र बने हैं। वहीं, 2020 में जनवरी से लेकर मई तक 4208 लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र बने थे। जिन लोगों की मई में मौत हुई हैं अभी तक उनके मृत्यु प्रमाण पत्र बनाए जा रहे हैं। मई में मरने वाले करीब 4 हजार लोगों के मई में प्रमाण पत्र अब तक जारी हो चुके हैं। मई का फाइनल डेटा 30 जून के बाद ही पोर्टल पर अपडेट हो होगा।

जिला प्रशासन के आंकड़ों के अनुसार, नोएडा-ग्रेटर नोएडा में कोरोना की वजह से पिछले साल से लेकर अब तक मात्र 466 लोगों की मौत हुई है। वहीं, मृत्यु प्रमाण पत्र जारी होने के आंकड़े सामान्य से करीब 6 हजार ज्यादा हैं। इतने अधिक लोग किन कारणों से मरे इसके बारे में फिलहाल कहना मुश्किल है। माना जा रहा है कि इनमें अधिकांश की मौत कोरोना से हो सकती है। क्योंकि तमाम लोगों के टेस्ट नहीं हो पाए और बीमार लोग अस्पतालों में भर्ती नहीं हुए। गांवों में कोरोना की वजह से जो मौतें हुईं वह अभी तक रेकॉर्ड में नहीं हैं।

इस साल तीन गुना ज्यादा मौतें
2019 के आंकड़ों से तुलना की जाए तो इस साल तीन गुना ज्यादा मौतें अभी तक हो चुकी हैं। 2019 में जिले से कुल 11958 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी हुए थे। 2020 में कुल 13156 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी हुए और इस साल जनवरी से लेकर मई तक ही 9561 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी हो चुके हैं। 2019-20 के एक साल के और 2021 में मात्र 5 महीने के आंकड़े हैं।

नोएडा में डेथ सर्टिफिकेट का डेटा

महीना साल मौतें/डेथ सर्टिफिकेट महीना साल मौतें/डेथ सर्टिफिकेट
जनवरी 2020 521/1152 जनवरी 2021 678/1422
फरवरी 2020 574/1225 फरवरी 2021 485/1224
मार्च 2020 549/1004 मार्च 2021 496/1324
अप्रैल 2020 252/375 अप्रैल 2021 683/1591
मई 2020 300/452 मई 2021 2063/4000
जून 2020 528/1025 जून
जुलाई 2020 474/1020 जुलाई
अगस्त 2020 472/705 अगस्त
सितंबर 2020 985/1440 सितंबर
अक्टूबर 2020 569/1432 अक्टूबर
नवंबर 2020 652/1444 नवंबर
दिसंबर 2020 806/1880 दिसंबर

गौतमबुद्धनगर के सीएमओ डॉ. दीपक ओहरी का कहना है, ‘डेथ सर्टिफिकेट बनने के आंकड़े जिले में बढ़े हैं लेकिन इसका बड़ा कारण यह भी है यहां प्रदेश के दूसरे शहरों और दिल्ली से इलाज कराने आए लोगों की मौत यहां के अस्पतालों में हुई है। सेक्टर-39 में केवल नोएडा एरिया में मौत होने वाले लोगों का मृत्यु प्रमाण पत्र बनता है बाकी जिले में कई और स्थानों पर यह प्रमाण पत्र बनते हैं। हमारे यहां अप्रैल में 683 और मई में 2063 लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र बने हैं।’

COVID DEATH

प्रतीकात्मक तस्वीर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *