औरतों को अपनी मान-मर्यादा में रहना पड़ता है। क्योंकि महिलाओं को घर की लक्ष्मी कहा गया है। ऐसे में महिलाएं कई ऐसे गलत कार्य कर जाती हैं जिसकी वजह से समाज को शर्मिंदगी उठानी पडती है। औरतों को मर्दों के सामने तीन गंदे काम कभी नहीं करने चाहिए। इससे आपकी मान-मर्यादा को हानि हो सकती है। क्योंकि औरतों के अच्छे कार्यों से ही समाज में मर्दों की इज्जत होती है।

महिलाओं को अपना आंचल हमेशा ही ढक कर रखना चाहिए। इसे कभी खोलकर प्रदर्शन नहीं करना चाहिए। जब आप अपने शिशु को स्तनपान कराएं तो भी हमेशा ढककर ही कराएं। जब कोई मां शिशु को सबके सामने स्तनपान कराती है तो बच्चे को किसी की बुरी नजर लगने का डर रहता है और आपको भी समाज में लोग बुरे नजरिए से देखने लगते हैं। इसलिए ऐसा कभी भी ना करें। 

महिलाओं को एकदम नंगा होकर स्नान नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से स्त्री को पाप लगता है और आपपास घूम रही गलत नाकारात्मक ऊर्जाएं आपके ऊपर हावी हो सकती हैं। शास्त्रों में इसे घोर पाप के बराबर माना जाता है।

स्त्री की इज्जत उसके कपड़ों से होती है, लेकिन जब कोई स्त्री फटे कपड़े पहनने लगे तो समाज में लोग उसे बुरी निगाहों से देखने लगते हैं, लेकिन अकसर महिलाएं जानबूझकर ही फटे कपड़े पहनती हैं। जैसे कि- फटे कपड़ों में जांघें दिखाना, जान-बूझकर नाभि का प्रदर्शन करना, आपत्तिजनक कपड़े पहनना आदि समाज में बहुत ही गंदा काम माना जाता है। जिससे पूरी मानवता शर्मसार हो जाती है। ऐसे में नारी को लोग बुरी निगाहों से देखते हैं और छोटे बच्चे भी वहीं गलती करते हैं जो बड़े लोग करते हैं। इसलिए एक नारी को गंदे वस्त्र कभी धारण नहीं करने चाहिए। इससे नारी शब्द का ही नहीं बल्कि माता लक्ष्मी का अपमान भी माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *