सचिन तेंडुलकर ने पकड़ी टीम इंडिया की गलती, बोले-इस वजह से WTC खिताब से चूक गई कोहली एंड कंपनी

केन विलियमसन की कप्तानी वाली न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने भारत को हराकर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (IND v NZ WTC Final) खिताब अपने नाम कर लिया। इस जीत से विश्व क्रिकेट में विलियमसन एंड कंपनी की जमकर सराहना हो रही है।

न्यूजीलैंड ने भारत को 8 विकेट से हराकर डब्ल्यूटीसी का पहला एडिशन अपने नाम किया। पिछले 21 साल में ये पहला मौका है जब कीवी टीम ने कोई आईसीसी का टूर्नामेंट अपने नाम किया है।

 

रिजर्व डे के दिन भारत की उम्मीदें कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की बल्लेबाजी पर टिकी हुई थी। दोनों दूसरी पारी में 5वें दिन नाबाद लौटे थे। लेकिन छठे दिन के खेल की शुरुआत में भारत ने एक घंटे के भीतर दोनों के विकेट गंवा दिए।

टीम इंडिया की हार के बाद मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) ने सोशल मीडिया के अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 खिताब जीतने के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को बधाई। आप ने शानदार खेल दिखाया। निश्चिततौर पर टीम इंडिया इस प्रदर्शन से निराश होगी। मैंने पहले ही कहा था कि पहले 10 ओवर अहम होंगे। भारत ने कोहली और पुजारा दोनों के विकेट 10 गेंद के भीतर ही गंवा दिए। इसी वजह से टीम पर दबाव बढ़ गया था।’

छठे दिन पहले घंटे में ही कोहली और पुजारा हुए थे आउट
पहली पारी में 44 रन बनाने वाले कोहली दूसरी पारी में 13 और पुजारा 15 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद भारतीय टीम दबाव से उबर नहीं पाई और उसकी पूरी टीम 170 रन पर ढेर हो गई। इस तरह पहली पारी में 32 रन की लीड लेने वाली कीवी टीम को 139 रन का लक्ष्य मिला जो उसने 2 विकेट खोकर बना लिए।

 

‘तब परिणाम कुछ और हो सकता था’
न्यूजीलैंड की टीम ने शानदार खेल दिखाया। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी न्यूजीलैंड को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) फाइनल में जीत का हकदार बताया और कहा कि यदि उनकी टीम ने दूसरी पारी में 30 से 40 रन अधिक बनाए होते तो नतीजा अलग हो सकता था। भारतीय टीम दूसरी पारी में 170 रन पर आउट हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *