कोचिंग नहीं, ड्रेसिंग रूम का माहौल सही रखने की जरूरत और द्रविड़ ऐसा जरूर करेंगे: सचिन तेंडुलकर

एक भारतीय क्रिकेट टीम इस समय इंग्लैंड में है। वहीं, जुलाई में एक अन्य भारतीय टीम श्रीलंका का दौरा करेगी। वहां वह सीमित ओवरों की सीरीज खेलेगी। टीम इंडिया वहां तीन वनडे और तीन टी20 इंटरनैशनल मैच खेलेगी।

13 जुलाई से शुरू हो रही इस सीरीज के लिए शिखर धवन को कप्तान बनाया गया है। वहीं राहुल द्रविड़ इस टीम के कोच होंगे। द्रविड़ इस समय नैशनल क्रिकेट अकादमी, बैंगलुरु के अध्यक्ष हैं। महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर का मानना है कि इससे टीम को काफी फायदा होगा।

द्रविड़ ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक खास इंटरव्यू में इस सवाल का जवाब दिया। सचिन से जब पूछा गया कि इससे टीम को क्या फायदा होगा? सचिन ने कहा, ‘ये खिलाड़ी राहुल के साथ काफी वक्त बिता चुके हैं, तो वे उन्हें जानते हैं। कोच वह होता है जो टीम और ड्रेसिंग रूम का माहौल स्वस्थ बनाए रखे और राहुल ऐसा करेंगे। इस स्तर पर जब तक कोई कमी न हो, आपको खिलाड़ियों को कोच करने की जरूरत नहीं होती। वे सब जानते हैं कि एक कवर ड्राइव कैसे लगाया जाता है या आउट स्विंगर कैसे फेंकी जाती है।’

सचिन ने आगे कहा, ‘जब कोई खिलाड़ी संघर्ष कर रहा होता है तो किसी का अनुभव काम आता है। वरना खिलाड़ियों को पता है कि उन्हें क्या करना है। शिखर धवन 10 साल से खेल रहे हैं। यह काफी लंबा वक्त होता है। टीम में अनुभव और युवाओं का अच्छा मिश्रण है। और बेशक राहुल तो उन्हें मदद करने के लिए वहां हैं ही।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *