ISSF World Cup में भारत की धीमी शुरुआत के बाद सौरभ चौधरी को कांस्य पदक

सौरभ चौधरी ने अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी महासंघ (आईएसएसएफ) विश्व कप में गुरुवार को यहां पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल में कांस्य पदक जीतकर भारत का खाता खोला, लेकिन अन्य निशानेबाज ‘पोडियम’ तक पहुंचने में असफल रहे।

19 वर्षीय सौरभ ने क्वालीफाइंग में 581 का स्कोर बनाने के बाद फाइनल में 220 अंक बनाकर कांस्य पदक जीता। भारत के एक ही एक अन्य निशानेबाज अभिषेक वर्मा ने भी क्वालीफाईंग में 581 स्कोर बनाया था लेकिन फाइनल वह 179.3 अंक के साथ पांचवें स्थान पर रहे।

मनु भाकर महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में 137.3 स्कोर के साथ सातवें स्थान पर रही जबकि इलावेनिल वलारिवान और दो अन्य भारतीय खिलाड़ी महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाने में असफल रही।

ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल फाइनल में सातवें स्थान पर रहे। तोक्यो ओलिंपिक से पहले भारतीय निशानेबाजी टीम के लिए यह आखिरी प्रतियोगिता है।

बीस वर्षीय ऐश्वर्य ने क्वालीफाईंग दौर में 628 का स्कोर बनाया। उन्होंने फाइनल में बाहर होने से पहले 143.9 अंक बनाए। भारत के दो अन्य निशानेबाज दीपक कुमार (626) और दिव्यांश सिंह पंवार (624.7) क्वालीफाईंग दौर में क्रमश: 14वें और 27वें स्थान पर रहने के कारण फाइनल में जगह नहीं बना पाए।

महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में भी भारतीयों को निराशा ही हाथ लगी तथा अंजुम मोदगिल, अपूर्वी चंदेला और वलारिवान फाइनल में जगह बनाने में असफल रही।

अपूर्वी ने भारत की तीनों खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। वह 624.2 अंक लेकर 24वें स्थान पर रही। अंजुम 622.3 अंक के साथ 42वें स्थान पर रही जबकि इलावेनिल ने 621.2 अंक बनाये और उन पर सही स्कोर किये गये शॉट पर विरोध जताने के लिये दो अंकों की पेनल्टी भी लगी।

जूनियर विश्व कप की स्वर्ण पदक विजेता इलावेनिल ने शुरू में 623.2 अंक बनाए थे और वह 35वें स्थान पर थी, लेकिन दो अंक की पेनल्टी लगने के कारण वह 55वें स्थान पर खिसक गई।

आईएसएसएफ के नियमों के अनुसार यदि परिणाम, टाइमिंग और स्कोरिंग (आरटीएस) ज्यूरी को लगता है कि जिस शॉट के लिए विरोध जताया गया है उसकी स्कोरिंग सही की गई थी तो फिर निशानेबाज पर दो अंक की पेनल्टी लगती है।

महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में मनु के अलावा यशस्विनी सिंह देसवाल ने भी फाइनल में जगह बनाई, लेकिन वह 117.1 के स्कोर के साथ आठवें स्थान पर रही। मनु ने क्वालीफाईंग 577 का स्कोर बनाकर छठे स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बनाई थी। यशस्विनी ने 578 का स्कोर बनाया था।

राही सरनोबट ने क्वालीफाईंग में 572 का स्कोर बनाया और वह 13वें स्थान पर रहने के कारण फाइनल्स में जगह नहीं बना पाई। बुल्गारिया की एंटोनेटा कोस्तादिनोवा ने महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल पिस्टल में 240 स्कोर के साथ स्वर्ण पदक जीता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *