PSL 6: मुल्तान सुल्तान ने पेशावर जल्मी को हराकर जीता खिताब

मुल्तान सुल्तान ने पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) का खिताब जीत लिया है। फाइनल में उसने पूर्व चैंपियन पेशावर जल्मी को 47 रन से हराया। यह मुल्तान का पहला पीएसएल खिताब है। गुरुवार को अबू धाबी में खेले गए मुकाबले में उसने जीत हासिल की।

34 साल के शोएब मकसूद ने इस फाइनल में 65 रन की पारी खेली। शोएब को 34 साल की उम्र में टीम में शामिल किया गया। वहीं साउथ अफ्रीका के राइली रूसो ने 21 गेंद पर तबाड़तोड़ 50 रन बनाए। मुल्तान ने 4 विकेट पर 206 रन की पारी खेली।

पेशावर, ने टॉस जीतकर रनों का पीछा करने का फैसला किया था। उसकी टीम पूरे रनचेज में नजर नहीं आई और 9 विकेट पर सिर्फ 159 रन ही बना पाई। हालांकि अनुभवी खिलाड़ी शोएब मलिक ने 28 गेंद पर 47 रन बनाए।

लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने अपने आखिरी ओवर में तीन विकेट लिए वहीं जिम्बाब्वे के तेज गेंदबाज ब्लेसिंग मुजाराबानी ने आक्रामक बल्लेबाज हजरतुल्लाह जजई को जल्दी आउट कर पेशावर की टीम को शुरुआती झटका दिया।

मुल्तान की टीम ने लीग में शानदार वापसी की। टूर्नमेंट के अबू धाबी शिफ्ट होने के बाद उसके खेल में अलग रोमांच नजर आया। उसने लीग चरण में अपने आखिरी पांच में से चार मैच जीते। क्वॉलिफायर में उसने फेवरिट माने जाने वाली इस्लामाबाद यूनाइटेड को भी हराया।

फरवरी में कोरोना वायरस के चलते लीग को स्थगित करना पड़ा था। उस दौरान कई खिलाड़ी और सपॉर्ट स्टाफ कोविड पॉजिटिव हो गए थे। तब यह कराची में खेली जा रही थी। उस चरण में मुल्तान का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। टीम को शुरुआती पांच मैचों में से सिर्फ एक में ही जीत मिली थी।

पेशावर की टीम तीसरी बार फाइनल में हारी है। इससे पहले साल 2018 और 2019 में भी उसे खिताबी मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था।

मुल्तान के लिए मकसूद ने पूरे टूर्नमेंट में अहम रोल निभाया। उन्होंने आक्रामक बल्लेबाजी की और अपनी टीम के लिए कई उपयोगी पारियां खेलीं। उन्होंने पूरी लीग में कुल 428 रन बनाए।

पेशावर जल्मी के कप्तान वहाब रिहाज को लगा होगा कि मैच उनके नियंत्रण में है। लेकिन हजतुल्लाह जजई ने मकसूद का कैच तब छोड़ा जब वह सिर्फ छह रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। पारी के 11वें ओवर में रियाज की गेंद पर एक्सट्रा कवर पर उन्होंने कैच टपकाया।

मकसूद और रूसो ने सिर्प 44 गेंदों पर 98 रनों की साझेदारी की। अमद बट्ट एक बार फिर महंगे साबित हुए। उन्होंने 52 रन दिए और को विकेट नहीं लिया। दोनों बल्लेबाजों ने अपनी साझेदारी में 11 चौके और छह छक्के लगाए। मुल्तान ने अपने आखिरी नौ ओवरों में 124 रन जोड़कर मैच को पेशावर से दूर कर दिया।

तेज गेंदबाज सलमान गुल, जिन्हें उमेद आसिफ के सस्पेंड होने के बाद टीम मे जगह मिली ने 26 रन देकर दो विकेट मिले। आसिफ को गुरुवार को बायो-बबल से बाहर जाने पर सस्पेंड किया गया था। गुल के अलावा बाकी गेंदबाजों के लिए मकसूद और रूसो को रोकना आसान नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *