इब्न ए आदम
अभी कुछ दिन पहले आज तक की पत्रकार चित्रा त्रिपाठी के पति अतुल अग्रवाल ने फ़ेसबुक पर लिखा कि नॉएडा में रात के समय उनके साथ लूट हो गयी । लोगों ने फ़ेसबुक पर उनकी पोस्ट देखी तो #JusticeForAtul के नाम से ट्विटर पर ट्रेंड शुरू हो गया ।
अतुल अग्रवाल ने काफ़ी कोशिश की कि यह मामला ना बढ़े लेकिन सोशल मीडिया कुछ ज़िम्मेदार लोग उनके लिए इंसाफ़ माँगते रहे । यह बिल्कुल वैसा ही हो रहा था जैसा देश के किसानो के साथ हो रहा है कि किसान कह रहे हैं कि हमारा भला मत कीजिए , कृषि बिल वापस ले लीजिए लेकिन सरकार भला करने पर अड़ी हुई है ।
फिर नॉएडा पुलिस ने CCTV की मदद से साबित कर दिया कि अतुल अग्रवाल के साथ कोई लूट नहीं हुई , वो रात में OYO होटल में रुके थे और पारिवारिक कारणो से लूट की झूठी स्टोरी बना रहे थे । अब ज़िम्मेदार लोग noida police और चित्रा त्रिपाठी के लिए न्याय माँगने लगे ।
बाद में पता चला कि अतुल अग्रवाल पहले घर आए थे और घर से निकाले जाने के बाद होटल गए थे , अब वापस अतुल अग्रवाल निर्दोष लगने लगे । नॉएडा पुलिस से अनुरोध है कि इस रायते को समेटने के लिए अतुल अग्रवाल को गिरफ़्तार करे और तय करे कि किसके इंसाफ़ की लड़ाई जनता लड़े ।
हम बोले तो बोले क्या , हम लिखे तो लिखे क्या ??

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *