शिवाकांत अवस्थी

बछरावां/रायबरेली: जरा सी असावधानी कभी-कभी बड़ी दुर्घटना का कारण बन जाती है, और जानलेवा हो जाती है। ऐसी ही एक लापरवाही आज उस समय देखने को मिली जब कमांड हॉस्पिटल लखनऊ में भर्ती अपने पिता को देखने के लिए राजेश पुत्र कृष्णानंद सपरिवार लखनऊ जा रहे थे, जैसे ही उनकी कार लखनऊ बांदा बाईपास के निकट पहुंची की लखनऊ की ओर से आ रही एक कार अचानक बांदा मार्ग की ओर मुड़ते ही दोनों कारों में भीषण टक्कर हो गई, टक्कर इतनी तेज थी कि, राजेश की कार बगल में स्थित नहर में जा गिरी। जिसके चलते 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। वहीं दूसरी कार के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए। गनीमत यह रही कार में लगे एयर बैग खुल जाने की वजह से अगली सीट पर बैठे हुए व्यक्ति बाल-बाल बच गए।

   आपको बता दें कि, इस भीषण कार हादसे में शैलेंद्र कुमार पुत्र आरडी कुशवाहा, राजपती देवी पत्नी आरडी कुशवाहा, सुषमा पत्नी स्वर्गीय लल्लन सिंह, सरिता पत्नी रवि, रोली पुत्री शैलेंद्र कुमार तथा ड्राइवर राजेश कुमार पुत्र कृष्णानंद गंभीर रूप से घायल हो गए, तथा दूसरी कार में गाड़ी चला रहे अश्वनी गुप्ता को मामूली चोटें आई।

   घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के बाद तीन लोगों को घर जाने की छुट्टी दे दी गई, परंतु तीन की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

    घटना के संबंध में प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि, अगर डॉक्टर अश्वनी गुप्ता द्वारा सामने से आ रहे वाहन को देखकर गाड़ी को मोड़ा गया होता, तो शायद इस घटना से बचा जा सकता था।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *