India Tour of Sri Lanka: टूर पर हर किसी को मौका मिलना संभव नहीं : राहुल द्रविड़

श्रीलंका दौरे के लिए भारतीय टीम (India Tour of Sri Lanka) के हेड कोच नियुक्त किए गए राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने कहा कि ऐसा संभव नहीं है कि सीमित ओवरों की सीरीज के लिए चुने गए सभी युवा खिलाड़ियों को मैच में खेलने का मौका मिल जाएगा।

युवा खिलाड़ी इस साल होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं को प्रभावित करना चाहते हैं और द्रविड़ (Dravid) इस सीरीज में कोच की भूमिका में वापसी कर रहे हैं।

नैशनल क्रिकेट अकैडमी (National Cricket Academy) के प्रमुख द्रविड़ (Dravid) ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इस संक्षिप्त दौरे पर हमसे यह उम्मीद करना शायद अवास्तविक होगा कि हर किसी को मौका दिया जाए जिसमें तीन टी20 मैच और तीन वनडे हैं। और सिलेक्टर भी वहां होंगे।’

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘इस टीम में काफी खिलाड़ी हैं जो आगामी वर्ल्ड कप के लिए टीम में अपना स्थान पक्का करना चाहते हैं और कुछ जगह बनाना चाहते हैं लेकिन मुझे लगता है कि टीम में हर किसी का मुख्य लक्ष्य सीरीज जीतने की कोशिश करना है। मुख्य उद्देश्य सीरीज जीतना है और उम्मीद करते हैं कि खिलाड़ियों को अच्छे प्रदर्शन के लिए मौका मिलेगा। वर्ल्ड कप से पहले सिर्फ तीन टी20 मैच ही हैं। मुझे पूरा भरोसा है कि सिलेक्टर और मैनेजमेंट को अब तक अंदाजा हो गया होगा कि वे किस तरह की टीम चाहते हैं।’

शिखर ने कहा, यह नई चुनौती
श्रीलंका के सीमित ओवरों के दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान चुने गए शिखर धवन ने आगामी सीरीज को चुनौतीपूर्ण करार देते हुए कहा कि इससे दूसरी श्रेणी के खिलाड़ियों को अपना कौशल दिखाने और मुख्य टीम में जगह बनाने का मौका मिलेगा।

शिखर ने इस टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ की उपस्थिति में श्रीलंका रवानगी से पहले मीडिया कहा, ‘यह बहुत अच्छी टीम है। हमारी टीम में सकारात्मकता है, विश्वास है और हर किसी को अच्छा प्रदर्शन करने का भरोसा है। खिलाड़ी बेहद उत्साहित हैं। यह नई चुनौती है लेकिन इसके साथ ही यह हम सभी के लिए अपना कौशल दिखाने का शानदार मौका है। हर कोई इसका इंतजार कर रहा है। हमारे क्वॉरंटीन के 13-14 दिन गुजर चुके हैं और खिलाड़ी मैदान पर उतरने के लिए बेताब हैं। हमारे पास तैयारी के लिए 10-12 दिन हैं।’

साव, पडिक्कल पर निगाहें
युवा बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) और पृथ्वी साव (Prithvi Shaw) पर भी सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। टीम में ईशान किशन (Ishan Kishan) और संजू सैमसन (Sanju Samson) के रूप में दो विकेटकीपर बैट्समैन भी हैं।

शिखर ने टीम कॉम्बिनेशन के बारे में कहा, ‘खिलाड़ी तैयार हैं और वे इन मैचों में खेलने के लिए बेताब हैं। इन खिलाड़ियों ने आईपीएल और अन्य टूर्नामेंटों में पहले ही खुद को साबित किया है।’ पहली बार भारतीय टीम की कप्तानी कर रहे बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, ‘टीम युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण है।’

छह के लिए पहला मौका
नियमित कप्तान विराट कोहली और मुख्य टीम के इंग्लैंड दौरे पर होने के कारण शिखर श्रीलंका के खिलाफ अगले महीने भारतीय टीम की अगुआई करेंगे। भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) टीम के उप कप्तान हैं।

भारत को श्रीलंका से तीन वनडे और इतने ही टी20 इंटरनैशनल मैच खेलने हैं। दौरे की शुरुआत 13 जुलाई को और समापन 25 जुलाई होगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने दौरे के लिए 20 सदस्यीय टीम का चयन किया है जिसमें हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) तथा स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) और युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) भी शामिल हैं। इनमें छह ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है।

rahul-dravid-shikhar-dhawan

द्रविड़ ने किया साफ- टूर पर सभी को मौका मिलना संभव नहीं (BCCI फोटो)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *