सौमित्र रॉय
2 लाख से ज़्यादा। तकरीबन इतने ही “उधर” भी हैं। आप पूछेंगे- ये हो क्या रहा है भाई? जंग का इरादा है क्या? सूत्रों की खबर है कि चीन ने तिब्बत सीमा पर बम रोधी बंकर, नई हवाई पट्टियां, अस्थाई चौकियां और मोबाइल अटैक यूनिट्स बनाने शुरू कर दिए हैं।
भारत ने भी हल्के और भारी दोनों तरह के हथियार और साज़ो-सामान जुटा लिए हैं। बताया जा रहा है कि सेना को किसी भी समय चीन के कब्जे से ज़मीन छीनने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।
आपके खून में उबाल आया न? उधर, जम्मू में ड्रोन उड़ रहे हैं। ज़मीन से ठाएं-ठाएं की आवाज़ आती है और तनाव बढ़ जाता है। चैनलों ने पाकिस्तान को कूटना शुरू कर दिया है।
ये अलग बात है कि जब चीन एक साथ 36 हज़ार ड्रोन उड़ाकर दिखा सकता है तो भारत कहां चूक रहा है- इस पर बात कोई नहीं कर रहा। ये सियासी प्रॉक्सी वॉर दोनों देशों के नेताओं की कुर्सी पर पकड़ बनाये रखता है।
बहरहाल, कश्मीर में परिसीमन का मतलब “घाटी में हिन्दू राज” भी है। कौन जाने कल को पुलवामा की तरह यह सब मिलकर एक चुनावी मुद्दा बन जाए? सच सबको हज़म नहीं होता। पर सच तो सच होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *