चोरी हो गया फोन? अपने पैसों को सेफ रखने के लिए तुरंत करें ये 8 काम, वरना हो जाओगे कंगाल

Things To Do After Mobile Lost: Smartphone हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुके हैं हमारे फोन में बहुत कुछ जरूरी जानकारियां सेव होती हैं जैसे कि मोबाइल वॉलेट और ऑनलाइन बैंकिंग डीटेल्स। ग्लोबली एक नया ट्रेंड देखा जा रहा है कि चोर अब डिवाइस को बेचकर पैसे कमाने के बजाय बैंकिंग डीटेल्स और अन्य निजी डेटा को चोरी करने के लिए भी Mobile Phones चुरा रहे हैं।

ऐसे में फोन के बारे में चिंता करने से बेहतर है कि ये सोचा जाए कि मोबाइल चोरी होने के बाद ऑनलाइन फ्रॉड से अपने पैसों को कैसे सेफ किया जाए। हम आज आप लोगों को 8 ऐसे काम बताने जा रहे हैं जो आपको मोबाइल फोन चोरी हो जाने के तुरंत बाद करने होंगे ताकि आपके पैसे सेफ रहें और कोई भी उनका गलत इस्तेमाल ना कर पाए।

मोबाइल बैंकिंग और इंटरनेट एक्सेस को ब्लॉक
जैसे ही आपका मोबाइल चोरी हो जाए या फिर खो जाए तो तुरंत बैंक को कॉल कीजिए और अपनी सभी ऑनलाइन बैंकिंग सर्विंस को ब्लॉक करवाएं ताकि कोई भी इसे एक्सेस ना कर पाए। अगर किसी गलत व्यक्ति ने आपके बैंक अकाउंट को एक्सेस कर लिया तो वो आसानी से पैसे को ट्रांसफर कर सकते हैं क्योंकि आपके मोबाइल में जो नंबर चल रहा है उसपर ओटीपी के जरिए वह ऐसा कर सकते हैं। इसीलिए जैसा कि हमने आपको बताया सिम को भी ब्लॉक कराना बेहद जरूरी होता है।

 

टेलीकॉम ऑपरेटर को कॉल
सबसे पहले तो आपको अपने टेलीकॉम ऑपरेटर को कॉल करना है और तुरंत अपना सिम कार्ड ब्लॉक कराएं, ऐसा इसीलिए क्योंकि चोर आपके वित्तीय सेवाओं के लिए आने वाले OTP को एक्सेस ना कर पाएं या फिर कह लीजिए आपके निजी मैसेज को एक्सेस ना कर पाएं। आप बेशक नए सिम कार्ड को लेकर इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन जब तक आप नई सिम लेंगे तब तक कोई आपकी सिम का गलत इस्तेमाल ना करें, इसके लिए ब्लॉक करना जरूरी है।

Aadhaar Centre जाकर जरूर करें ये काम
अगर किसी गलत व्यक्ति को आपके Aadhaar ऑथेंटिकेशन का एक्सेस मिल गया तो वह बहुत कुछ गलत कर सकते हैं। ऐसे में सलाह दी जाती है कि फोन चोरी होने के तुरंत बाद Aadhaar Centre जाएं और तुरंत अपने मोबाइल नंबर को चेंज कराएं।

 

बैंक जाकर करें ये जरूरी काम
ऐसी सलाह दी जाती है कि फोन चोरी हो जाने के बाद बैंकिंग सेवाओं के लिए उसी मोबाइल नंबर का फिर से इस्तेमाल ना करें। बैंक जाकर सबसे पहले अपना कोई दूसरा मोबाइल नंबर दें और फिर अपने सभी पासवर्ड को बदलें और फिर इसके बाद ही Internet Banking का इस्तेमाल करें।

मोबाइल वॉलेट को कराएं ब्लॉक
मोबाइल चोरी होने के तुरंत बाद आपको मोबाइल नंबर से लिंक मोबाइल वॉलेट सर्विस प्रोवाइडर को ऐप के जरिए या फिर वेरिफाइड हेल्पडेस्क पर कॉल करके Google Pay, Paytm और अन्य वॉलेट जो आपके चोरी हुए नंबर से लिंक हैं उन्हें ब्लॉक करवाएं।

 

Social Media अकाउंट्स और ईमेल सर्विस को करें ब्लॉक
आपके चोरी हुए नंबर के साथ जो भी ईमेल आईडी और Social Media अकाउंट्स लिंक हैं उन्हें डिएक्टिव करें, ऐसा करने से कोई भी गलत व्यक्ति स्कैम कर आपके अपनों को टारगेट नहीं कर पाएगा।

बैंक अकाउंट से लिंक UPI से जुड़ा ये काम भी करें
एक बात हमेशा ध्यान रखें कि ऑनलाइन बैंकिंग सर्विस को ब्लॉक करने के बाद UPI को डिएक्टिव और आपके चोरी हुए नंबर के साथ जो भी मोबाइल वॉलेट लिंक हैं उन्हें डिएक्टिवेट करना ना भूलें।

 

नजदीकी पुलिस स्टेशन जाएं और पूरा करें ये जरूरी काम
मोबाइल चोरी होने के बाद अपने पैसों को सेफ करने के बाद नजदीकी पुलिस स्टेशन जाकर चोरी की घटना की रिपोर्ट करें। इतना ही नहीं, FIR की कॉपी लेना ना भूलें क्योंकि इसकी जरूरत आपको बैंक, नए सिम कार्ड को लेने और वॉलेट कंपनी को देने के लिए जरूरत पड़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *