Noida theft case: नोएडा में 40 किलो सोना चोरी का मामला, सात फेरों की गवाही को ‘कालेधन’ का सबूत बनाएगी नोएडा पुलिस

ग्रेटर नोएडा की पूर्वांचल सिल्वर सिटी के फ्लैट से चोरी हुआ 40 किलो सोना और 6.5 करोड़ कैश की मालकियत का कनेक्शन जोड़ने के लिए नोएडा पुलिस की जांच जारी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि चोरों से हुई पूछताछ और फ्लैट से चोरी हुए एक बैग में राममणि पांडेय, संजू पांडेय व उनके बेटे किसलय पांडेय के बहुत से दस्तावेज मिले हैं। इससे यह साबित हो रहा है कि यह संपत्ति इन्हीं तीनों लोगों ने रखवाई थी।

बैग से दो सीडी भी पुलिस को मिली है। देखने पर पता चला है कि सीडी किसलय पांडेय की इंगेजमेंट व शादी की हैं। पुलिस इन सीडी को भी मामले में सबूत बनाएगी। अब आगे तीनों के खिलाफ कार्रवाई के लिए कानूनी राय नोएडा पुलिस ले रही है। सोमवार को इस प्रकरण में पुलिस अधिकारियों की बैठक भी हुई।

गाजियाबाद का कहने वाला है पंकज
पुलिस मास्टरमाइंड गोपाल पर इनाम बढ़ाने की तैयारी है। पंकज और सिमतल पर इनाम घोषित करने के लिए नोएडा पुलिस ने इनके घरों का पता लगाया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आरोपित पंकज गाजियाबाद के लोनी का निवासी है। वहीं, सिमतल मूलरूप से बिहार का रहने वाला है।

पंकज ने बनाई बहुत संपत्ति
पंकज के घर पर पुलिस टीम गई थी। वहां पता चला है कि उसने भी चोरी के बाद बहुत सी संपत्ति बनाई है। घर के सामने वाला तीन मंजिला घर भी खरीद लिया है। सबसे बड़ी चोरी के मुख्य किरदार गाजियाबाद के कोतवालपुर निवासी गोपाल की तलाश में नोएडा पुलिस लगी हुई है। कुछ दिन पहले उसकी लोकेशन प्रयागराज के पास मिली थी। अभी जल्द ही उसकी लोकेशन दिल्ली में मिली है। पुलिस भी इस लोकेशन को सही मान रही है।

किसलस की पत्नी भी घर छोड़कर गई
चोरी की घटना का 11 जून को खुलासा होने के बाद ग्रेनो स्थित अपने घर पर राममणि पांडेय व उनकी पत्नी पुलिस को नहीं मिली। घर पर किसलय की पत्नी पुलिस को मिली थी, लेकिन उनसे कोई जानकारी पुलिस को नहीं मिली थी। किसलय खुद के विदेश में होने की जानकारी दे रहा है। अब ग्रेनो स्थित उस विला से किसलय पांडेय की पत्नी भी कहीं और चली गई है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वह कई दिनों से कहीं गई हुई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *