चंडीगढ़। हरियाणा के बेरोजगार युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी है । हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) के अध्यक्ष भोपाल सिंह ने बड़ी जानकारी देते हुए कहा कि मार्च 2022 तक हरियाणा सरकार राज्य में 50,000 नौकरियों की भर्ती की जाएगी।

9 महीने के में होने वाली इन 50,000 पदों की भर्ती में 25,000 पदों की नई भर्तियां की जाएगी जबकि लगभग 25,000 भर्तीयां जो कोरोना महामारी के कारण रद्द करनी पड़ी थी उन भर्तियों को पूर्ण किया जाएगा। भोपाल सिंह ने यह भी कहा कि राज्य सरकार हरियाणा के युवाओं को नौकरी देने के लिए संजीदा है। हरियाणा सरकार के लगातार प्रयासों की वजह से राज्य में बेरोजगारों की संख्या में कमी आ रही है।

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) के चेयरमैन गोपाल सिंह इन नौकरियों के लिए होने वाली भर्तियों की जानकारी देते हुए कहा कि सबसे पहले जुलाई महीने में 3200 पैरामेडिकल स्टाफ की भर्तियां आयोजित की जाएगी। जिसके तहत डेंटल हाइजीनिस्ट, आप्थमैटिक असिस्टेंट, रेडियोग्राफर/ अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन, डेवलपमेंट असिस्टेंट और अन्य सहायक कर्मचारी पदों में नियुक्तियां की जाएगी।

पुलिस विभाग में भर्ती की जानकारी देते हुए चेयरमैन गोपाल सिंह ने कहा कि अगले दो महीने के भीतर राज्य में 8 हजार पुलिस कर्मचारियों की भी भर्तियों के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जिसमें 7200 कॉन्स्टेबल (महिला और पुरुष) पदों की भर्ती है। 465 SI(सब इंस्पेक्टर) पदों की भी भर्ती होगी जिसमें 65 पद महिलाओं जबकि 400 पद पुरुषों के लिए हैं जबकि 524 कमांडो की भर्ती भी होगी। चेयरमैन द्वारा इस बात की भी जानकारी दी गई कि आयोजित होने वाली लगभग सभी भर्तियों की प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से संपन्न करवाई जाएगी।

चेयरमैन गोपाल सिंह द्वारा वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में राज्य के युवाओं को रजिस्ट्रेशन कराने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि 30 जून के बाद हरियाणा में होने वाली सभी भर्तियां वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के तहत ही आयोजित होगी। अभी तक साढ़े चार लाख लोग अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन कराने की अंतिम तारीख 30 जून है।

राज्य में कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) का आयोजन NTA (नेशनल टेस्टिंग अथॉरिटी) द्वारा करवाया जाएगा। जिसे रोजगार की तलाश कर रहे राज्य के लोगों को सीईटी परीक्षा पास करना जरूरी है। सीईटी क्वालिफाइड उम्मीदवार ही हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के पास स्क्रीनिंग के लिए आएंगे। सीईटी टेस्ट कराने का मुख्य उद्देश्य परीक्षा केंद्रों में होने वाली भीड़ को कम करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *