Microsoft पर भारी भारतीय नारी! BUG ढूंढकर जीते 22 लाख रु., इस हुनर बदौलत ही बगैर डिग्री हासिल की नौकरी

एक बार फिर एक भारतीय ने अपनी काबिलियत से देश का नाम रोशन कर दिया है। दरअसल, अदिति सिंह नाम की एक 20 वर्षीय साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट ने $30,000 (लगभग 22 लाख रुपये से अधिक) का Microsoft Azure बग इनाम जीता है। अपनी इस जीत से उत्साहित अदिति ने बताया है कि दिलचस्प बात यह है कि इस समय जब वे अपने जीवन का सबसे बड़ा इनाम प्राप्त करने की प्रतीक्षा कर रही है, उनके माता-पिता को उन पर ज्यादा गर्व नहीं हुआ और अभी भी उन्हें लगता है कि “उन्हें अपने करियर में सेटल होन की जरूरत है”।

सिंह को Microsoft के Azure क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म में RCE (या रिमोट कोड एक्ज़ीक्यूशन) बग मिला, जो गंभीर सुरक्षा प्रभाव के साथ आता है। बग का विवरण अभी तक सार्वजनिक रूप से सामने नहीं आया है।

अदिति ने ट्वीट कर दी जानकारी

बेहद इंटरेस्टिंग है अदिति का यहां तक पहुंचने का सफर
बग बाउंटी हंटिंग भारत भर में कई इच्छुक तकनीकी विशेषज्ञों के लिए एक ट्रेंडिंग करियर विकल्प रहा है। लेकिन सिंह की कहानी अलग और प्रेरक है। कई स्कूल जाने वाले बच्चों की तरह, उन्होंने भी IIT और मेडिकल की तैयारी के लिए 10वीं कक्षा के बाद कोटा के एक निजी संस्थान में दाखिला लिया। हालांकि, जल्द ही उन्हें पता चल गया कि वह भारत में प्रतियोगी परीक्षाओं को पास करने की दौड़ में पिछड़ सकती है।

सिंह ने एक मीडिया संस्थान से बाचतीच में कहा कि- “मैं मेडिकल की तैयारी के लिए कोटा में एलन इंस्टीट्यूट में शामिल हुई। मुझे कंप्यूटर साइंस एजुकेशन का पहले से कोई ज्ञान नहीं था और अभी एक साल हुआ है कि मैंने बग बाउंटी हंटिंग शुरू किया है।”

गूगल और यूट्यूब से सीखी प्रोग्रामिंग
स्कूल से स्नातक होने के बाद, उन्होंने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (IGNOU) में BCA डिग्री कोर्स के लिए दाखिला लिया और MapMyIndia में साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट के रूप में भी काम कर रही हैं। “मैंने गूगल पर सर्च करके और YouTube पर वीडियो देखकर जावास्क्रिप्ट, MySQL और अन्य प्रोग्रामिंग भाषाओं के बारे में सीखा। मुझे बग बाउंटी में भी दिलचस्पी थी और साथ ही उनकी रिपोर्ट करना भी सीखा। तकनीकी के बारे में जानने के लिए समर्पित प्रयासों में लगभग एक साल लग गया।”

बग ढूंढकर ही पाई नौकरी
सिंह का कहना है कि उन्होंने स्कूल के बाद साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट के रूप में पहली नौकरी पाने के लिए रास्ता खोजना किया। “कई प्लेटफार्मों के माध्यम से जानकारी जुटाते समय, मुझे MapMyIndia पर कुछ कमजोरियां मिलीं। मैं उनके पास पहुंचीं और अच्छी बात ये रही कि स्नातक की डिग्री के बगैर भी जॉब हासिल करने में कामयाब रही।”

छात्रों को दी ये सलाह
उन्होंने इस फील्ड में रुचि रखने वालों को सलाह देते हुए कहा कि- “यह विश्वास करना काफी मूर्खतापूर्ण है कि प्रोग्रामिंग और साइबर सुरक्षा के बारे में जानने के लिए आपको कंप्यूटर साइंस की डिग्री की आवश्यकता है। ऑनलाइन सीखने के बहुत सारे संसाधन मुफ्त में उपलब्ध हैं। “बग बाउंटी के लिए आपको IITian होने की आवश्यकता नहीं है… यदि आप इंटरनेट पर खोज करने के लिए पर्याप्त स्मार्ट हैं तो यह काफी आसान है। अगर कोई एथिकल हैकिंग में जाना चाहता है तो उसे जावास्क्रिप्ट या पायथन से शुरुआत करनी चाहिए और बाद में एथिकल हैकिंग में सर्टिफिकेट कोर्स करना चाहिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *