नवोदय विद्यालय में नौकरी करना मेरे लिए एक मिशन था-जीपी मिश्रा।

शिवाकांत अवस्थी

महराजगंज/रायबरेली: स्थानीय जवाहर नवोदय विद्यालय बावन बुजुर्ग बल्ला में तैनात उप प्राचार्य गोवर्धन प्रसाद मिश्रा आज सेवानिवृत्त हो गए। उनके सम्मान में नवोदय विद्यालय के प्राचार्य डॉ एएन राय की अध्यक्षता में विद्यालय के सभागार में उन्हें विदाई देने का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

   आपको बता दें कि, कार्यक्रम में बोलते हुए प्राचार्य डॉ एएन राय ने सेवानिवृत्त हुए उप प्राचार्य जीपी मिश्रा को एक आदर्श शिक्षक तथा सरल स्वभाव और मृदुभाषी बताते हुए उनके कार्यों की सराहना की, और कहा कि, शिक्षक कभी रिटायर्ड नहीं होता है। उन्होंने कहा कि, जीपी मिश्रा के व्यक्तित्व और कृतित्व, उनकी संपूर्ण जीवन शैली से प्रेरणा लेकर आने वाले युवा वर्ग को काफी मदद मिलेगी। 

उन्होंने उम्मीद जताई कि, अपने सेवा काल में मिले अनुभवों को वह समाज में जाकर लोगों में बाटेंगे। जिस प्रकार उन्होंने सफलतापूर्वक अपने सेवा काल में काम किए हैं, अब सामाजिक और पारिवारिक जीवन में भी वह उतने ही सफल रहेंगे। उन्होंने इस मौके पर जीपी मिश्रा और उनकी पत्नी कुसुम मिश्रा के साथ-साथ उनकी माता श्री को भी सम्मानित किया।

   इस मौके पर बोलते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता तथा पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रभात साहू ने भी जीपी मिश्रा को सम्मानित करते हुए कहा कि, वह मानवीय संवेदना से लैस व्यक्ति हैं। विद्यालय के अंदर उच्च गुणवत्ता की शिक्षा देने के अलावा बाहर भी गरीबों और निर्बलों की सहायता करना उनके स्वभाव में है। श्री साहू ने श्री मिश्र के आगामी जीवन के मंगलमय होने की कामना करते हुए उन्हें विदाई दी।

    कार्यक्रम में विद्यालय में पढ़े पूर्व छात्र तथा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव सुशील पासी ने भी कहा कि, जीपी मिश्रा कर्मठ शिक्षक, योग्य संरक्षक तथा समाज सेवा को समर्पित व्यक्ति हैं। उन्होंने भी उनके सुखमय जीवन की कामना की।

   कार्यक्रम में वरिष्ठ कर्मचारी नेता प्रेमानंद चतुर्वेदी, महावीर स्टडी इस्टेट के प्राचार्य कमल बाजपेई, जिला पंचायत सदस्य केतार पासी ने भी जीपी मिश्रा को सम्मानित किया। कार्यक्रम में विद्यालय की वरिष्ठ शिक्षिका सपना सिंह, विद्या भूषण गुप्ता, जागृति शुक्ला, अनिल विक्रम सिंह, श्रीमती शपथ समजी आदि ने भी श्री मिश्र के बारे में विचार व्यक्त किए, और अपनी ओर से उन्हें सम्मानित भी किया।

   कार्यक्रम के अंत में सेवानिवृत्त हुए उप प्राचार्य गोवर्धन प्रसाद मिश्रा ने नवोदय विद्यालय में अध्यापन कार्य को नौकरी ना मानकर कहा कि, यह एक उनके लिए मिशन था। आज उन्हें गर्व है कि, प्रदेश में कई आईएएस, कई पीसीएस, कई आईपीएस अफसर विद्यालयों में पढ़ कर निकले हैं। 

इसके अलावा डॉक्टर, इंजीनियर जैसे पदों पर नवोदय विद्यालय में पढ़े छात्र देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी देश का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों से मिले आदर और सम्मान के लिए सबका धन्यवाद ज्ञापित किया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *