सार……….

◆क़ुरैशी समाज के सवालों को घोषणा पत्र में शामिल करेगी कांग्रेस।

◆क़ुरैशी समाज के लोगों ने अपनी आबादी के अनुपात में मांगा टिकट।

◆पश्चिमी उत्तर प्रदेश के क़ुरैशी समाज के साथ अल्पसंख्यक कांग्रेस की हुई वर्चुअल बैठक।

विस्तार……….

लखनऊ: प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम साहब की सदारत में ज़ूम पर एक वर्चुअल मीटिंग पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुरैशी समाज के लोगों के साथ की गई। जिसमें विधान सभा चुनाव के लिए बनने वाले घोषणा पत्र में क़ुरैशी समाज के सवालों को शामिल करने को लेकर वक्ताओं ने अपने सुझाव रखे। इस बैठक में कुरैशी समाज के प्रतिनिधियों ने अपनी आबादी के अनुपात में टिकट दिए जाने की मांग की। उन्होंने कहा कि, सपा सरकार में हमारी टैनरीयों को सुनियोजित तरीके से बन्द करवा दिया गया, वहीं बसपा सरकार में भी सबसे ज़्यादा मुकदमें लादे गए। लोगों ने कहा कि, जब तक प्रदेश में कांग्रेस की सरकार रही क़ुरैशी समाज का आर्थिक और राजनीतिक विकास हुआ। 

  आपको बता दें कि, क़ुरैशी समाज के प्रतिनिधियों ने कहा कि, मनमोहन सिंह की कांग्रेस सरकार में व्यापार में तमाम सहूलियतें दी गयीं। जबकि मोदी सरकार सांप्रदायिक द्वेष के कारण क़ुरैशियों के रोजगार को बन्द करा रही है। बैठक को संबोधित करते हुए शाहनवाज आलम ने कहा कि, कुरैशी समाज की हर मांग को प्रमुखता से उठाया जाएगा। श्री आलम ने बताया कि, पिछले 24 तारीख को पूरे प्रदेश में कुरैशी समाज की पांच प्रमुख मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग ने पूरे प्रदेश से जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजा और कांग्रेस के घोषणा पत्र में भी उनकी प्रमुख मांगों को जुड़वाया जाएगा।

  बैठक का संचालन अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रदेश महासचिव इक़बाल क़ुरैशी ने किया। बैठक में मुख्य रूप से डॉक्टर इफ्तेखार कुरेशी, चौधरी इकबाल कुरैशी, साजिद कुरेशी, अनस कुरैशी, तारीख कुरैशी, रफीक कुरैशी, सलमान कुरेशी के साथ-साथ अल्पसंख्यक विभाग के वाइस चेयरमैन अख्तर, मलिक स्टेट कोऑर्डिनेटर शाहनवाज खान एवं सचिव रिजवान कुरेशी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

द्वारा जारी

शाहनवाज़ आलम

चेयरमैन, अल्पसंख्यक विभाग उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *