देवास। गर्लफ्रेंड ने शादी के लिए दबाव क्या बनाया बॉयफ्रेंड न केवल उसे बल्कि उसके पूरे परिवार को रास्ते से साफ कर दिया। आरोपी ने एक के बाद एक 5 लोगों की निर्मम हत्या कर दी। इसमें गर्लफ्रेंड समेत उसकी मां, बहन और दो नाबालिग शामिल हैं। आरोपी ने सभी शवों को जेसीबी की मदद से दफना दिया। इधर गर्लफ्रेंड का मोबाइल लेकर उसके सोशल साइट्स में फोटो अपलोड करता रहा जिससे लोग समझे कि गर्लफ्रेंड रूपाली जिंदा है।

इधर रूपाली के जिंदा होने ओर पूरी हत्या की कहानी रूपाली की ओर घूमते रहने की साजिश आरोपी ने की थी और बहुत हद तक सफल हो गया था। मर्डर में दो नाबालिग मारे गए थे उसमें एक पूजा (15) और पवन (14) रूपाली की मामा की लड़की के बच्चे थे। बच्चों की मां ने रूपाली पर ही किडनैपिंग का मामला दर्ज करा दिया। इस तरह पुलिस भी गुमराह हो गई।

इस तरह हुआ इस पूरे कांड का खुलासा – ममता बाई की बड़ी बेटी भारती पीथमपुर में ही काम करती है। 17 मई को जब वह घर अपने भाई संतोष के साथ लौटी तो वहां कोई नहीं मिला। इसके बाद उसने नेमावर थाने में पांचों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। सभी जगह तलाश की गई, लेकिन पता नहीं चला। संतोष के साथ बार-बार सुरेंद्र थाने आता था। वह जताने की कोशिश करता कि परिवार का काफी करीबी है। पुलिस को ये बात खटकी और उसने सुरेंद्र पर फोकस करना शुरू किया।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम – आरोपी सुरेंद्र ने रूपाली को पहले खेत पर बुलाया। वो अपनी स्कूटी से वहां आई। उसने रॉड से मारकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उसी स्कूटी से रूपाली की मां और बहनों को खेत पर लाया और उन्हें भी मार दिया। उसने पूजा और पवन को भी नहीं छोड़ और उसी तरह उन्हें भी स्कूटी पर बैठा कर लाया और मार डाला। फिर पांचों शवों को जेसीबी लोकर गड्‌ढा खोदकर दफना दिया। इस हत्याकांड ने एमपी की राजनीति में भूचाल मचा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *