भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सिक्योरिटी में तैनात एक कांस्टेबल ने खुद को गोली मारकर खुदखुशी कर ली। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। इस घटना के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया। पुलिस ने शस्त्र बरामद कर जांच के लिए भेज दिया है।

दरअसल, बुधवार सुबह जब कांस्टेबल अजय सिंह ड्यूटी पर नहीं पहुंचे तो सिक्योरिटी ऑफिस ने अजय को फोन किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया तो साथी सिपाही अजय को तलाशते हुए मगंलवारा इलाके में उनके फ्लैट पर पहुंचे। दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने खिड़की से झांककर देखा तो वहां अजय की खून से लथपथ हालत में लाश पड़ी हुई थी। इसके बाद पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया और बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल पहुंचा गया।

बता दें कि कांस्टेबल अजय सिंह मूलरूप से विदिशा के शमशाबाद का रहने वाले थे। 2012 में 10वीं बटालियन सागर में नौकरी जॉइन की थी। वह पिछले 6 महीने से सीएम सुरक्षा में तैनात थे। पुराने भोपाल के मंगलवारा इलाके में एक किराए के फ्लैट में रहते थे। कुछ दिन पहले ही उनकी पत्नी और 13 माह की बेटी एक रिश्तेदार की शादी में शामिल होने के लिए शमशाबाद गए हुए थे। अजय भी छुट्टी लेकर इस कार्यक्रम में जाने वाले थे, लेकिन उससे पहले यह घटना हो गई।

टीआई संदीप पंवार ने बताया कि पोस्टमार्टम के मुताबिक, अजय ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर से खुद को कनपटी पर गोली मारकर आत्महत्या की है। उनके परिवार वालों और आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है। अभी तक अजय के मरने की पीछे की वजह सामने नहीं आ पाई है। फिलहाल पुलिस जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *